काव्यांश (विषय - आशा)

ध्वनि

अभी न होगा मेरा अन्त।
अभी-अभी ही तो आया है Read More

मेरी तो हर साँस मुखर है, प्रिय, तेरे सब मौन सँदेसे

मेरी तो हर साँस मुखर है, प्रिय, तेरे सब मौन सँदेसे। Read More